India China News Live Updates गलवान घाटी के पास भारत-चीन के सैनिकों में हिंसक झड़प

बताया जा रहा है कि सिर्फ भारत की तरफ ही नहीं बल्कि चीन की तरफ भी कुछ सैनिकों को चोट पहुंची है. इस झड़प के दौरान किसी तरह की कोई गोली नहीं चली है, यानी हाथापाई ही हुई थी.

खास बातें


भारतीय और चीनी सेना के बीच हिंसक झड़प हुई।
झड़प में भारतीय सेना के अधिकारी सहित दो जवान शहीद हो गए हैं।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उच्च स्तरीय बैठक कर रहे हैं। 
भारतीय सेना थोड़ी देर में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी।

पचास साल में पहली बार चीन सीमा पर हिंसक झड़प, शहीद हुए तीन भारतीय जांबाज

भारत और चीन के बीच लद्दाख में चल रहा विवाद सोमवार रात खूनी संघर्ष में बदल गया। सोमवार रात हुई दोनों सेनाओं की झड़प में भारतीय सेना के एक कर्नल और 2 सैनिक शहीद हो गए। वहीं भारतीय सेना के अनुसार इस झड़प में चीनी सेना को भी बड़ा नुकसान हुआ है। चान के सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स की चीफ रिपोर्टर वेंग वेनवेन ने ट्वीट कर बताया कि इस झड़प में चीन के कई सैनिकों के मारे गए हैं। ग्लोबल टाइम्स के अनुसार झड़प में 5 चीनी सैनिक मारे गए हैं। वहीं 11 सैनिक घायल हुए हैं। खास बात यह है कि सेना ने स्पष्ट किया है कि इस झड़प में एक भी गोली नहीं चली। बताया जा रहा है भारतीय सेना के उच्च अधिकारी गलवान घाटी पहुंच चुके हैं। घटना के बाद दोनों पक्षों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है। 

कुछ किमी. पीछे हट रही थीं सेनाएं

दोनों देशों की सेनाओं की ओर से लंबे वक्त से इस विवाद को खत्म करने की ओर कदम बढ़ाए जा रहे थे. 6 जून के बाद से कई राउंड की बात चल रही थी, CO से लेकर लेफ्टिनेंट जनरल लेवल तक के अफसरों के बीच बातचीत जारी थी. जिसके बाद तय हुआ था कि दोनों देशों की सेना कुछ किमी. तक पीछे हटी थीं. लेकिन जब ये प्रक्रिया चल रही थी, उसी दौरान दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई.

1962 में भारत और चीन का युद्ध हुआ था. इस युद्ध के बाद यानी 70 के दशक के बाद से एलएसी पर तनाव की खबरें आती थी, लेकिन कोई भारतीय सेना का जवान शहीद नहीं हुआ था. आज करीब 50 साल बाद एलएसी पर भारत और चीनी सैनिक के बीच हिंसक झड़प हुई, जिसमें भारतीय सेना के अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए हैं.

चीन ने भारतीय सैनिकों पर लगाया घुसपैठ का आरोप


चीन ने भारतीय सैनिकों पर घुसपैठ का आरोप लगाते हुए कहा है कि भारतीय सैनिक उसके क्षेत्र में अवैध रूप से दाखिल हुए। एएफपी की खबर के मुताबिक, बीजिंग ने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा है कि भारतीय सैनिकों ने सीमा पार करके चीनी सैनिकों पर हमला किया।

बातचीत के जरिए सीमा विवाद सुलझाने पर सहमत हुए भारत-चीन


चीन और भारतीय सीमा पर स्थिति को सामान्य बनाने और सीमा क्षेत्रों में शांति बनाए रखने के लिए बातचीत के माध्यम से द्विपक्षीय मुद्दों को हल करने पर सहमति व्यक्त की है। चीन ने भारतीय पक्ष के साथ गंभीर अभ्यावेदन दर्ज किए हैं और सीमा पार करने या किसी भी एकतरफा कार्रवाई करने से अपनी सीमावर्ती सैनिकों को सख्ती से रोकने का आग्रह किया है जिससे सीमा स्थिति जटिल बना सकती है। यह जानकारी चीन के ग्लोबल टाइम्स ने अपने विदेश मंत्री के हवाले से दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *