Holi Recipes पकवान के साथ होली को बनाएं खास

Holi Pakwan Recipes in Hindi  (होली के पकवान)

फाल्गुन की पूर्णिमा को मनाया जाने वाला होली का त्यौहार न सिर्फ रंगों का पर्व है बल्कि हर्ष और उल्लास का प्रतीक भी है. आमतौर पर होली की पूर्व संध्या में होलिका दहन से शुरू होने वाला यह त्यौहार रंगों का खेला- धुलेंडी तक चलता है.Holi Recipes

Holi Recipes

होली के अवसर पर कई तरह के व्यंजन घर में बनाए जाते हैं। ऐसे में अगर आप कुछ अलग बनाना चाहती हैं तो इन व्यंजनों को बना सकती हैं यहां हम आपको इन  होली पर बनाए जाने वाले व्यंजनों की रेसिपी बताने जा रहे हैं जो इस प्रकार है….

 

अधिकतर लोग होली के उत्सव की तैयारी कुछ दिनों पूर्व से आरंभ कर देते हैं. आखिर, धूम-धड़ाके के साथ-साथ पकवानों की भरमार भी त्यौहारों पर होती है.

होली पर विशेषकर

गुजिया (gujia)

दही वड़ा (dahi vada),

मालपुआ (maalpua),

कांजी वड़ा (kaanji vada),

मठरी (mathri),

 

और बेसन के सेव (besan sev) इत्यादि भी बनाए जाते हैं.

ठंडाई (thandai) को हम कैसे भूल गए? आखिर इसके बिना भी तो होली का जश्न अधूरा सा लगता है.

होली पर बनाएं गुझिया :- (gujia) Holi Recipes

Image result for holi ke pakwaan

गुझिया बनाने की विधि…

सामग्री :-

गुझिया में भरने के लिए सामग्री

मावा (खोया)-400 ग्राम
चीनी-400 ग्राम (पिसी हुई)
सूजी-100 ग्राम
सूखा नारियल-100 ग्राम
काजू-100 ग्राम (महीन कतरे हुए)
किशमिश-50 ग्राम (डंठल रहित)
घी-02 बड़े चम्मच
छोटी इलाइची-08 (छील कर कूटी हुई)

गुझिया का आटा तैयार करने के लिए :-

मैदा-500 ग्राम
दूध-50 ग्राम
घी-125 ग्राम (आटा में डालने के लिए)
घी-गुझिया तलने के लिए

विधि :-Holi Recipes

सबसे पहले गुझिया में भरने के लिए भरावन तैयार करें। उसके लिए एक भारी तले की कढ़ाई लें और उसमें मावे को हल्का भूरा होने तक भून लें और उसे एक अलग बर्तन में निकाल लें।

उसके बाद कढ़ाई में घी डालें और सूजी डाल कर उसे भी हल्का ब्राउन होने तक भून लें। भुन जाने पर सूजी को भी एक अलग बर्तन में निकाल लें। अब मावा, सूजी, चीनी और मेवों को अच्छी तरह से मिला लें। आपकी भरावन सामग्री बनकर तैयार है।

घी को पिघलाकर छने हुए मैदा में डालकर अच्छी तरह से मिला लें। उसके बाद दूध को भी आटे में मिला दें और उसके बाद पर्याप्त मात्रा में पानी डालकर थोड़ा कड़ा आटा गूथ लें। गुथे हुए आटे को एक बर्तन में रख दें और उसे गीले कपड़े से ढ़क कर आधे घंटे के लिए रख दें।

आधे घंटे के बाद आटे को खोलें और उसे एक बार वापस हल्के हाथों से गूंथ लें। उसके बाद उसकी छोटी-छोटी लोई बना लें। ये लोइयां सूखकर कड़ी न हो जाएं, इसलिए यदि जरूरी समझें तो इन्हें गीले कपड़े से ढक दें।

उसके बाद एक-एक लोई लें और उसे पूरी की शक्ल में बेल लें। इसके बाद एक-एक पूरी को उठाएं और उसके बीच में दो बड़े चम्मच भरावन सामग्री रखकर पूरी को बीच से पलट दें और किनारे के सिरों को मोड़ कर बंद कर दें।

आप चाहें तो इसके लिए गुझियों के सांचे का भी प्रयोग कर सकते हैं। गुझिया को बना-बनाकर एक मोटे कपड़े से दाबकर रखती जाएं जिससे उसके ऊपर की मैदा सूखे नहीं। सारी गुझिया भरने के बाद एक मोटे तले की कढ़ाई में घी गरम करें।

घी गरम होने पर आंच को मध्यम कर दें और उसमें जितनी गुझिया आराम से तल सकें, उतनी डालें और हल्की भूरी होने तक पलट-पलट कर तल लें।

अब आपकी गुझिया तैयार हैं। एक प्लेट में गरमा-गरम गुझिया निकालें और परोसें। बची हुई गुझिया को ठंडी होने के बाद किसी एअर टाइट डब्बे में रखें। इन्हें दो-तीन सप्ताह तक रखकर खाया जा सकता है।

दही भल्ला Holi Recipe(dahi vada Recipe in Hindi)

Image result for dahi vada

 

सामग्री Holi Recipes

  • 4 कप उड़द दाल
  • 2 1/2 टी स्पून नमक
  • 1 टी स्पून लाल मिर्च पाउडर
  • 2 टी स्पून चिरौंजी
  • 1 टी स्पून किशमिश
  • 1/2 टी स्पून हींग
  • 1 टी स्पून पानी
  • 1 कप दही
  • 1/2 टी स्पून नमक
  • जीरा पाउडर
  • 6 टी स्पून इमली की चटनी
  • 6 टी स्पून पुदीने की चटनी
दही वड़ा रेसिपी विस्तार से :Holi Recipes
  1. रात भर भीगी हुई दाल को सुबह थोड़ा पानी डालकर, मिक्सी में डालकर, अच्छी तरह पीसकर गाढ़ा पेस्ट बना लीजिये.
  2.  एक कड़ाही में तेल गर्म करने रखिये और जब तक तेल गर्म हो तब तक दाल के पेस्ट में नमक, हींग और काला नमक मिला लीजिये.
  3. जब तेल गर्म हो जाये तब एक चम्मच दाल का पेस्ट अँगुलियों पर फैला लीजिये.
  4.  इस पर 1 टुकड़ा काजू और 1 किशमिश रखकर इसे बंद कर दीजिये.
  5. गर्म तेल में ये वड़े मध्यम आँच पर हल्के सुनहरे होने तक तल लीजिये.
  6. जब वड़े हल्के सुनहरे हो जायें तब इन्हें कड़ाही से निकाल लीजिये.
  7. दही वड़ा परोसने के लिये ये वड़े 10 मिनट के लिये पानी में भिगोकर रखिये. आप चाहें तो इन्हें छाछ में भी भिगो सकते हैं. इससे इनका स्वाद और भी बढ़ जाता है.
  8. 10 मिनट बाद इन्हें हल्के हाथों से दबाकर पानी निकाल दीजिये
  9. और फिर इन्हें दही, नमक, लाल मिर्च पाउडर, जीरा पाउडर, धनिया चटनी और इमली की चटनी के साथ परोसिये.

मावा-पनीर मालपुआ Holi Recipe(maalpua)

Image result for मालपुआ बनाने की विधि

सादा मालपुओं से ज्यादा मावा पनीर के मालपुए अच्छे लगते हैं। इन्हें बाजार से खरीदकर लाने के बजाय आप घर पर भी तैयार कर सकती है। मावा-पनीर मालपुए बनाना बहुत ही आसान है। इन्हें बनने में ज्यादा समय भी नहीं लगता है। चलिए आपको बताते हैं मावा-पनीर मालपुआ बनाने की विधि…

सामग्री :-Holi Recipes

फुलक्रीम मिल्क – आधा लीटर
मैदा – आधा कप
बारीक सूजी -1 बड़ा चम्मच
हरी इलायची पाउडर -1 चौथाई बड़ा चम्मच
पनीर कसा हुआ – आधा कप
चीनी – 250 ग्राम
पानी – 100 मिली
बादाम व पिस्ता कटे हुए – 1 बड़ा चम्मच
मालपुए सेंकने के लिए – देसी घी

विधि :-

सबसे पहले एक बर्तन में दूध डालकर मध्यम आंच पर रखें और गाढ़ा होने तक पकाएं। जब दूध गाढ़ा हो जाए तो इसमें चीनी डालें और ठंडा होने के लिए रख दें।

जब दूध अच्छी तरह ठंडा हो जाए तो इसमें मैदा, सूजी और इलायची पाउडर डालें और अच्छी तरह मिलाकर 5 मिनट के लिए रख दें। मालपुआ का मिश्रण बनकर तैयार है।

अब एक दूसरे बर्तन में चीनी व पानी डालें, इसे मध्यम आंच पर रखें और एक तार की चाशनी तैयार होने तक पकाएं।

एक नॉन-स्टिक तवे पर देसी घी डालकर चम्मच से थोड़ा मिश्रण लेकर फैलाएं और मालपुओं को दोनों ओर से पलटकर अच्छी तरह सेक लें। लज़ीज़ पकवान

तैयार मालपुओं को चाशनी में 1 घंटे तक डालकर रखें। इसके बाद इन्हें प्लेट में निकालकर इन पर उपर से कसा हुआ पनीर, पिस्ता और बादाम छिड़ककर सर्व करें।

 

कांजी वड़ा (kaanji vada)Holi Recipe

 

Related image

 

आवश्यक सामग्री :

कांजी के लिए-

    • लाल मिर्च पाउडर_Chilli powder – 1/2 छोटा चम्मच,
    • पिसी राई_Mustard seed powder – 02 बड़े चम्मच,
    • हल्दी पाउडर_Turmeric powder – 01 छोटा चम्मच,
    • हींग_Asafetida – 02 चुटकी,
    • पानी_Water – 02 लीटर,
    • काला नमक_Black salt – 1/2 छोटा चम्मच,
    • नमक_Salt – स्वादानुसार।

वड़ों के लिए-

  • मूंग दाल_Moong dal -100 ग्राम,
  • नमक_Salt – 1/4 छोटा चम्मच,
  • तेल_Oil – तलने के लिए।

कांजी वड़ा बनाने की विधि :

कांजी वड़ा रेसिपी Kanji Vada Recipe Holi recipes के लिये सबसे पहले मूंग दाल को साफ करके धो लें और 4 घंटे के लिए पानी में भिगो दें। भीगने के बाद दाल को ग्राइंडर में पीस लें। उसके बाद उसे किसी बड़े बर्तन में लेकर अच्छी तरह फेंट लें।

फेंटने के बाद दाल (जिसे पिट्ठी कहते हैं) की एक छोटी सी गोली पानी में डालें। अगर यह पानी के ऊपर तैरती रहे, तो ठीक, और अगर नीचे चली जाती है, तो इसका मतलब अभी इसे और फेंटने की ज़रूरत है।

पिट्ठी तैयार होने के बाद कड़ाही में तेल गरम करें। तेल गरम होने पर उसमें एक बड़े चम्मच के बराबर दाल की पिट्ठी डालें और सुनहरा होने तक तलें। तलने के बाद वड़ों को किचन पेपर पर निकाल कर रखें।

जब सारे वड़े बन जाएं, तो एक बर्तन में गरम पानी लेकर उसमें एक छोटा चम्मच नमक मिला दें और फिर उसमें तले हुए बड़े डाल दें। पांच मिनट में वड़े अच्छी तरह से भीग जाएंगे। उसके बाद उन्हें हल्के हाथ से दबा कर पानी निकल दें और अलग रख दें।holi recipes

Holi Recipes कांजी बनाने की विधि :

एक बड़े बाउल में हल्दी, लाल मिर्च, पिसी राई, हींग, काला नमक और नमक लेकर उसमें 1/2 बाउल पानी डालें और सारी चीजों को अच्छी तरह से मिला लें। अब इसमें 2 लीटर पानी मिला लें और उसमें वड़े डाल कर कर अच्छी तरह से चलाएं।

अब वड़ों को किसी गर्म जगह पर 2 दिनों के लिए रख दें। गर्म मौसम में इसमें दो दिन में एक सोंधी सी खटास आ जाएगी। पानी में डाले गये मसाले नीचे की ओर बैठ जाते हैं, इसलिए दिन में 1-2 बार इसे चला दें, जिससे कांजी अच्छी तरह से तैयार हो जाए।

2 दिन बाद आपके कांजी वड़ा Kanji Vada तैयार हो जाएंगे। वैसे अगर मौसम में ठंडक हो, तो इन्हें तैयार होने में ज्यादा वक्त लग सकता है। और हां, जब कांजी का पानी आपके मुताबिक खट्टा हो जाए, तो उसे फ्रिज में रख दें और 7 दिनों तक इस्तेमाल करें।

 

मठरी (mathri)Holi Recipe

Related image

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Mathri Recipe

  • मैदा –  500 ग्राम (5 कप)
  • देशी घी या रिफाइन्ड तेल –  125 ग्राम  (आधा कप से थोड़ा सा ज्यादा)
  • जीरा या अजवायन –  एक छोटी चम्मच
  • नमक  –  एक छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • बेकिंग सोडा – 2 पिंच (यदि आप चाहें)
  • रिफाइन्ड तेल –  तलने के लिये

विधि – How to make marthri holi recipes

मैदा में घी/तेल, नमक और अजवायन डाल कर अच्छी तरह मिला लीजिये, और  पानी की सहायता से सख्त आटा गूथ लीजिये. गूथे हुये मैदा को 20 मिनिट के लिये सैट होने के लिये ढक कर रख दीजिये.

कढ़ाई में तेल डालकर गरम करने के लिये गैस पर रखें.  गूथे हुये मैदा से उगलियों की सहायता से थोड़ा सी मैदा निकालें और गोल करके बेलन से बेलें,  इसमें चाकू से 5-6 छेद करदें और प्लेट में रखे, फिर दूसरी मठरी को भी इसी तरीके से तैयार करें. 5- 6 मठरियाँ इसी तरह तैयार कर लें, और अब इन्हैं तेल में डालें, धीमी आग पर तलें. जब तक यह मठरियाँ सिकती हैं तब तक और 5- 6 मठरियाँ बेल कर तैयार करलें.  कढ़ाई में मठरियाँ जब ब्राउन हो जाय तब उन्हैं
निकाल लें और एक प्लेट में पेपर नैपकिन बिछा कर रखें.

अब दूसरी बार बेली हुई मठरियाँ तेल में डाल दें और उसी तरह तलें. बाउन होने पर इन्हैं भी निकाल लें, और प्लेट में रखें. इसी तरह सारी मठरियाँ बना कर तैयार कर लीजिये.holi recipes

खस्ता कुरकुरी मठरी (Flaky Biscuits)  तैयार हैं, इन्हैं गरमा गरम चाय के साथ खाइये और बची हुई मठरियों (mathri) को ठंडा करके एअर टाइट डिब्बे में बन्द करके रख लीजिये, 1 महिने तक कभी भी जब आपकी इच्छा हो निकालिये और खाइये.

 

बेसन के सेव (besan sev Holi ke pakwaan)

 

Image result for बेसन के सेव

आवश्यक सामग्री holi recipes

    • 250 ग्राम बेसन
    • एक छोटी चम्मच अजवायन
    • एक छोटी चम्मच जीरा
    • आधी छोटी चम्मच पिसी काली मिर्च
    • 4 से 5 पिसी लौंग
    • 1 चुटकी पिसी हींग
    • एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर
    • स्वादानुसार नमक
    • आवश्यकतानुसार खाने वाले सोडा
    • तेल

विधि

– बेसन को किसी बर्तन में छान लें, फिर बेसन में तेल नमक, पिसी काली मिर्च, लाल मिर्च, पिसी लौंग, जीरा, अजवायन, और हींग मिलाकर गुनगुने पानी से बेसन को नर्म गूंद.
– बेसन को 10 मिनिट के लिये ढककर रख दें.
– अब एक कढ़ाई में तेल डाल कर गर्म करें, फिर सेव नमकीन वाली मशीन में अपने अनुसार सेव नमकीन की जाली लगाकर गुंदे बेसन को मशीन में भर लें.
– उसके बाद हाथों से सेव नमकीन वाली मशीन को दबाते हुए जाली से निकलते बेसन को तेल में ऊपर से डालकर हल्का ब्राउन सेकें और, एक थाली में टिश्यू पेपर लगाकर सेके हुए बेसन के सेव तेल से थाली में निकालें.
– बेसन की सेव नमकीन तैयार है अब इसे चाय के साथ खाएं.