Navratri Special नवरात्रि में व्रत-उपवास और पूजा के नियम आइये जाने

Navratri Special नवरात्रि में व्रत-उपवास और पूजा के नियम आइये जाने

Navratri Special कल से नवरात्रि शुरू हो गई है। इन 9 दिनों में मां की पूजा, व्रत और उपवास किए जाएंगे, लेकिन आपको इस दौरान कुछ जरुरी बातों का ध्यान रखना चाहिए। मार्कंडेय और देवी पुराण के अनुसार देवी पूजा और व्रत-उपवास नियम के अनुसार ही करने चाहिए वरना इनका फल नहीं मिल पाता है। पुराणों के अनुसार इन नौ दिनों में पूरे संयम से रहना चाहिए और इंद्रियों पर नियंत्रण रखना चाहिए। ऐसा करने से आध्यात्मिक और शारीरिक शक्ति तो बढ़ती ही है मां दुर्गा भी प्रसन्न होती हैं।

Navratri Special

जानिए कैसे करें पूजा और इन खास बातों का रखे ध्यान (Navratri Special) –

1 – नवरात्रि Navratri Special के पहले दिन 9 दिनों के व्रत और उपवास का संकल्प लें। इसके लिए सीधे हाथ में जल लेकर उसमें चावल, फूल, एक सुपारी और सिक्का रखें। हो सके तो किसी ब्राह्मण को इसके लिए बुलाएं। ऐसा न हो सके तो अपनी कामना पूर्ति के लिए मन में ही संकल्प लें और माता जी के चरणों में वो जल छोड़ दें।

2 – इन दिनों व्रत-उपवास में सुबह जल्दी उठकर नहाएं और घर की सफाई करें। पूरे घर में गौमूत्र और गंगाजल का छिड़काव करें। उसके बाद माता जी की पूजा करें। पूजा में ताजा पानी और दूध से माता जी को स्नान करवाएं। फिर कुमकुम, चंदन, अक्षत, फूल और अन्य सुगंधित चीजों से पूजा करें और मिठाई का भोग लगाकर आरती करें। नवरात्रि Navratri Special के पहले ही दिन घी या तेल का दीपक लगाएं। ध्यान रखें वो दीपक नौ दिनों तक बुझ न पाएं।

3 – व्रत-उपवास में माता जी की पूजा करने के बाद ही फलाहार करें। यानि सुबह माता जी की पूजा के बाद दूध और कोई फल ले सकते हैं। नमक नहीं खाना चाहिए। उसके बाद दिनभर मन ही मन माता जी का ध्यान करते रहें। शाम को फिर से माता जी की पूजा और आरती करें। इसके बाद एक बार और फलाहार (फल खाना) कर सकते हैं। अगर न कर सके तो शाम की पूजा के बाद एक बार भोजन कर सकते हैं।

4 – माता जी की पूजा के बाद रोज 1 कन्या की पूजा करें और भोजन करवाकर उसे दक्षिणा दें।

5 – नवरात्रि Navratri Special के दौरान तामसिक भोजन नहीं करें। यानि इन 9 दिनों में लहसुन, प्याज, मांसाहार, ठंडा और झूठा भोजन नहीं करना चाहिए।

Download Durga Navratri 2018 app

6 – इन दिनों में क्षौरकर्म न करें। यानि बाल और नाखून न कटवाएं और शेव भी न बनावाएं। इनके साथ ही तेल मालिश भी न करें। नवरात्रि के दौरान दिन में नहीं सोएं।

7 – नवरात्रि Navratri Special में सूर्योदय से पहले उठें और नहा लें। शांत रहने की कोशिश करें। झूठ न बोलें और गुस्सा करने से भी बचें। इसके साथ ही मन में किसी के लिए गलत भावनाएं न आने दें। अपनी इंद्रियों का काबु रखें और मन में कामवासना जैसे गलत विचारों को न आने दें।

8 – नवरात्रि Navratri Special के व्रत-उपवास बीमार, बच्चों और बूढ़ों को नहीं करना चाहिए। क्योंकि इनसे नियम पालन नहीं हो पाते हैं।

Navratri Special नौ दिनों में इन 9 रंग के कपड़े पहनने पर मां दुर्गा होती हैं प्रसन्न

Navratri Special

नवरात्रि के प्रथम दिन पहने इस कलर का कपड़ा (Navratri Nine days and Colours):

पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा होती है। इस दिन आप पूजा में पीले रंग के कपड़े पहनें। पीला रंग पहनना खासतौर से शुभ होता है।

नवरात्रि के दूसरे दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के दूसरे दिन मां ब्रह्राचारिणी की पूजा होती है। इस पूजा में हरे रंग के कपड़े धारण करें।

नवरात्रि के तीसरे दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा होती है। इस दिन आप ग्रे रंग के कपड़े पहन कर मां दुर्गा को खुश कर सकते हैं।

नवरात्रि के चौथे दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के चौथे दिन कूष्मांडा की पूजा की जाती है। इस दिन आप नारंगी रंग को पहन सकते है. मां दुर्गा को नारंगी रंग पसंद होता है।

नवरात्रि के पांचवे दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के 5वें दिन मां स्कंदमाता की पूजा की जाती है। इस दिन सफेद रंग पहनना शुभ माना जाता है।

नवरात्रि के छठे दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के छठें दिन मां कात्यानी की पूजा की जाती है। इस दिन के लिए लाल रंग बहुत शुभ माना जाता है।

नवरात्रि के सातवे दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के 7वें दिन कालरात्रि की पूजा होती है। इस दिन कहा जाता है कि नीला रंग पहनना शुभ होता है।

नवरात्रि के आठवें दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के 8वें दिन महागौरी की पूजा होती है। इस दिन गुलाबी रंग पहन

नवरात्रि के नवे दिन पहने इस कलर का कपड़ा

नवरात्र के 9वें दिन मां सिद्दात्री की पूजा की जाती है। इस दिन बैंगनी रंग पहनना बेहद शुभ होता है। इस रंग के कपड़े पहनकर ही मां की पूजा करें और कन्याओं को खिलाएं।