Benefit of Radish मूली(Mooli) खाने से होने वाले जबरदस्त फायदे

Benefit of Radish मूली(Mooli) खाने से होने वाले जबरदस्त फायदे

आपने मूली (Radish) एवं इसके गुणों के बारे में अवश्य सुना होगा। मूली विटामिन, फाइबर एवं एंथोसायानिन (vitamins, fiber and anthocyanin) से भरपूर होती है। यह विभिन्न प्रकारों एवं आकारों, जैसे सफ़ेद मूली, लाल मूली, बैंगनी मूली, काली मूली एवं पीली मूली, में उपलब्ध होती है। इसे कच्चा या उबालकर खाया जा सकता है। मूली का एक तेज़ स्वाद होता है जो इसे स्वादिष्ट बनाता है। आप इसे हरी सब्जियों या मछली के साथ पकाकर लज़ीज़ व्यंजन बना सकते हैं। मूली (Radish) का प्रयोग अचार बनाने में भी किया जा सकता है। इस सब्जी के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। यह सभी तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का बेहतरीन इलाज है।

Radish

मूली के स्वास्थ्य गुण (Health benefits of radish)

श्वसन समस्या (Respiratory problem – Mooli ke fayde)

मौसम बदलने के साथ ही हमें कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सर्दी खांसी सामान्य कारकों में से एक है। नाक बंद होने की वजह से भी समस्या उत्पन्न हो सकती है। आप बच्चों में ये समस्या अधिक देख सकते हैं। मूली (Radish) श्वसन प्रणाली बंद होने की समस्या को कम करती है। यह सर्दी, संक्रमण, बुखार एवं गले की समस्याओं की रोकथाम करती है।

मधुमेह (Radish – Diabetes)

क्या आपके परिवार में कोई मधुमेह की समस्या से ग्रसित है? क्या रक्त में शुगर (sugar) की मात्रा से आप चिंतित हैं ? लोग कई तरह की औषधियों एवं इलाज का सहारा लेते हैं, परन्तु रक्त में शुगर की मात्रा बार बार बढ़ जाती है। मूली चीनी की मात्रा पर नियंत्रण करने में मदद करती है। यह रक्त में चीनी के मिश्रण को नियंत्रित करता है।

जौंडिस (Jaundice – Mooli ke labh)

जौंडिस एक गंभीर रोग है जिससे कोई व्यक्ति ग्रस्त हो सकता है। इस बीमारी के दौरान व्यक्ति के शरीर में बिलीरुबिन (bilirubin) के स्तर में वृद्धि होती है। इसके फलस्वरूप उनकी आँखें, त्वचा एवं मूत्र गहरे पीले रंग का हो जाता है। मूली एक अच्छा शुद्धिकारक है जो रक्त शुद्ध करके अशुद्धियाँ दूर करता है। काली मूली(Radish) जौंडिस में काफी फायदेमंद होती है। मूली की पत्तियों का प्रयोग जौंडिस के इलाज के लिए किया जाता है। यह रक्त में ऑक्सीजन (oxygen) की आपूर्ति को बढ़ाता है।

Radish

वज़न घटाना (Weight loss – Mooli khane ke fayde )

मूली(Radish) के सेवन से भूख कम लगती है एवं कैलोरीज (calories) नियंत्रित होती है। मूली एक अच्छा खाद्य पदार्थ है जिसमें फाइबर की काफी मात्रा होती है। यह शरीर का वज़न कम करने में मदद करता है। मूली मेटाबोलिज्म (metabolism) के प्रभाव को बढ़ाता है। इसके फलस्वरूप आप एक खूबसूरत एवं सुगठित शरीर प्राप्त कर सकते हैं। आप या तो रोजाना जिम (gym) जाने वाले एथलीट (athlete) या खूबसूरत सेलेब्रिटी (celebrity) की तरह दिखेंगे।

रक्तचाप (Blood pressure)

रक्तचाप की अधिक मात्रा लोगों में काफी सामान्य रूप से पायी जाती है। इसका कारण तनाव एवं चिंता हो सकते हैं। मूली (Radish) पोटैशियम (potassium) का बड़ा स्त्रोत है तथा रक्तचाप कम करने में सहायता करता है , यह रक्तचाप कम करके रक्त का प्रवाह बढ़ाता है एवं रक्त के प्रवाह के लिए रास्ता बड़ा करता है।

पानी की कमी (Dehydration)

क्या आपकी आदत दिन में कम पानी पीने की है? इससे शरीर में पानी की कमी एवं अन्य स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। मूली(Radish) में पानी की उच्च मात्रा होती है जो आपके शरीर को पानी की कमी की समस्या से मुक्त करती है। यह पाचन प्रणाली को भी प्रभावित करती है एवं पाचन क्रिया दुरुस्त करती है।

Radish

लिवर (Radish – Liver)

हममें से कई लोगों के लिवर स्वस्थ होते हैं, परन्तु कईयों के लिवर ठीक से काम नहीं करते। कई लोग ऐसे होते हैं जिनके लिवर में दिन के समय समस्या देखी जाती है। मूली (Radish) लिवर की कार्यशीलता के लिए काफी फायदेमंद होती है एवं रक्त से अतिरिक्त बिलीरुबिन हटाती है। मूली के नियमित सेवन से आपका लिवर संक्रमणों से दूर रहता है।

पित्ताशय (Radish – Gallbladder)

मूली (Radish) पित्ताशय की समस्याओं से आपको राहत प्रदान करती है। यह अम्ल एवं एंजाइम (enzyme) के प्रवाह एवं निर्माण को नियंत्रित करती है। इसमें एमीलेस, एस्टरेस एवं डायसटेस (amylase, esterase and diastase) जैसे एंजाइम्स मौजूद होते हैं। मूली के सेवन से अल्सर (ulcer) एवं संक्रमणों से भी निजात प्राप्त होती है।