Piliya or Jaundice Treatment पीलिया के लक्षण और घरेलु इलाज

Piliya or Jaundice Treatment पीलिया के लक्षण और घरेलु इलाज

पीलिया जिसे अंग्रेजी में (jaundice) कहते है, लीवर से सम्बंधित बीमारी है | जो सामान्यता लीवर में होने वाले किसी प्रकार के संक्रमण होने से होता है | कभी-कभी इसके लिए कुछ हानिकारक बैक्टीरिया भी जिम्मेदार होते है ,जिसके संक्रमण से शरीर में पानी का स्तर घटने लगता है | यह एक सामान्य रोग है परन्तु अगर समय रहते ध्यान नहीं दिया जाए तो यह बीमारी जानलेवा साबित हो सकती है |

अगर खान पान पर धयान नहीं दिया जाये और बहार का जयादा खाना खाने से भी यह बीमारी हो सकती है | अतः यह बेहद जरुरी है की बाहर की भोजन से परहेज किया जाये और साफ़ सुथरा भोजन किया जाये | तो चलिए आज जानते है की piliya ka gharelu ramban ilaj in hindi क्या है और इससे कैसे छुटकारा पाया जा सकता है |

Jaundice

Piliya jise angregi me jaundice kahte hai, liver se sambandhit bimari hai. jo samanyta liver  me hone wale kisi prakar ke sankraman hone se hota hai. kabhi kabhi iske liye kuch hanikarak becteria bhi jimedar hota hi, jiske sankraman se sharir me pani ka astar ghatne lagti hai. yah ek samany rog hote hai, parantu agar samay rahte dhyan nahi diya jaye to yah bimari jaanlewa shabit ho sakta hai.

पीलिया होने के लक्षण (Symptoms of jaundice)

Jaundice

पीलिया होने के कारण

पीलिया लीवर में होने वाली बीमारी है | इस रोग के होने के कई कारण है , जो इसके लिए जिम्मेदार होते है, जैसे :

  • गंदा पानी के इस्तेमाल करने से |
  • ज्यादा अल्कोहल का सेवन करने से |
  • मसालेदार ,तिखी, खाना के अधिक सेवन से |

पिलिया से बचने के लिये आवस्यक सावधानिया (Precaution for Jaundice)

  • पेट को गर्म करने वाली चीजो के सेवन कम करने की कोशिस करे |
  • रोजना पानी को गर्म कर के ही पिये |
  • मसालेदार भोजन का भी उपयोग कम करे |
  • चाय एवं कॉफ़ी पिने की मात्रा को कम करे |
  • calcium से भरपूर अहार को अपने खाने में शामिल करे |
  • तिखी मिर्च, तेल में तले चीजो की सेवन से परहेज करे
  • साफ पानी पीने की कोशिश करे |

Jaundice

पीलिया से निवारण पाने के घरेलु उपाए (home remedies for jaundice)

पीलिया का इलाज के लिए हमारे घर पर कई रामबाण दवा मौजूद है जो इस बीमारी को ठीक कर सकता है | निचे दिए गये सरल खाने जो की Jaundice के उपचार में काफी लाभदायक है ( jaundice treatment food) –

गन्ना का रस (Sugarcane juice) : गन्ने का रस हमारे शरीर पर रामबाण के तरह काम करता है, jaundic होने पर गन्ने का रस पीना चाहिए , यह काफी लाभ पहुचता है |

मुली का रस (radish) : मुली के रस को दिन में कम से कम 2 से 3 ग्लास पिए |

टमाटर (tomato) : टमाटर का सेवन करने से भी पीलिया रोग में एडा मिलता है | तम्टर में vitamin – c पाया जाता है जो इस रोग में लीवर को स्वास्थ रखने के लिए उपयोगी होता है |

तुल्सी का पत्ता (tulsi) : तुल्सी के पत्ते का इस्तेमाल करने से लीवर साफ होता है | तुल्सी के पत्ते को रोजाना सुबह खली पेट खाने से फायदा मिलता है |

Jaundice

नीबूं (lemon) : 3 या 4 नीबूं को निचोड़ कर उसके रस को पानी में मिलकर पीना चाहिए | इस्से भी पीलिया रोग में फायेदा पहुचता है |

दही (curd) : दही में पाए जाने वाली probiotic bacteria मौजूद होती है को की पीलिया को खात्मे के लिए काफी लाभदायक है |

दूध से बनी पानीर ,रसगुल्ला (food made Panir & rasgolla) : पीलिया होने पर दूध से बनी पनीर एवं रसगुल्ला खाने से भी तुरंत लाभ मिलता है |

केला और मधु (banana and honey) : खाना खाने के बाद फल में केला खाना चाहिए | दिन में कम से कम 3 से 4 बार 1 या 2 चम्मच मधुरस को पिए |

पुदीना का पत्ता (basil leaves) : पुदीना के 15 से 20 पत्ते को pest बना कर उसे दिन में 2 बार पीना चाहिए | इससे  लीवर स्वस्थ होता है , पीलिया रोग के लिए यह रामबाण दवा है |

Jaundice in Hindi – Piliya (पीलिया)

Jaundice kab matbla hindi mein Piliya hota hai. To agar aapko Jaundice hua ho to upar diye jaundice ke lakshan se pachana jaa sakta hai. App upar diye gharelu upay se aasani se raahat mil sakti hai, basarte ki aap in chijoo ko sahi time se aur regular follow kareein.

English Summary for Jaundice treatment

Piliya or Jaundice is a kidney disease that is dangerous if not treated in time, however, there are simple and easy treatments available at home.  The main reason behind the Jaundice includes less water consumption, having too much coffee, spicy food etc.  You can try to have 2 glass of Sugarcane juice at least a week to see the difference. Have a 2-3 glass of Radish juice daily for the 1st week. You should also drink at least 7 to 8 glass of water with Curd and Lemon.