Heart health – दिल की सुरक्षा के लिए जानिये कुछ हिंदी में टिप्स

Heart health – दिल की सुरक्षा के लिए जानिये कुछ हिंदी में टिप्स

Heart health हृदय शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण आतंरिक अंग है जिसकी सुरक्षा शरीर को सेहतमंद रहने के लिए बहुत ज़रूरी है. अगर आप सुखी और स्वस्थ रहना चाहते हैं तो आपको नियमित रूप से दिल का ख़याल (Heart health ) रखना होगा. शरीर में रक्त के परिसंचरण के लिए हृदय कार्य करता है. स्वस्थ दिल के बिन अच्छी सेहत की कल्पना नहीं की जा सकती. मनुष्य का दिल गर्भ में रहने के दौरान ही धड़कन शुरू कर देता है. अपने दिल को सेहतमंद रखने के लिए बहुत ज्यादा परिश्रम की ज़रूरत नहीं पड़ती बल्कि आप कुछ आसान उपायों की मदद से ही अपने दिल की सुरक्षा का ध्यान रख सकते हैं.

Heart health

दिल के बारे में सबसे अच्छी और रोचक बात यह है कि इसे सुरक्षित रखने के लिए आपको बहुत सा पैसा खर्च करने की आवश्यकता नहीं है और आप केवल कुछ सही आदतों को अपनाकर ही सेहतमंद दिल पा सकते हैं.

दिल की सेहत (Heart health) के घरेलू उपाय हिंदी में (heart care tips in Hindi)

नियमित व्यायाम (Heart health – Regular exercise)

नियमित रूप से रोज किया जाने वाला व्यायाम दिल की सेहत (Heart health) के लिए बहुत अच्छा होता है और दिल को सुरक्षित रखने के लिए भी ज़रूरी है. अगर आप हार्ट अटैक के खतरे से बचना चाहती हैं तो व्यायाम एक ज़रूरी उपाय है. हफ्ते में कम से कम 5 दिन और रोजाना 20 मिनट की एक्सरसाइज आवश्यक है.

Heart health

खाने के पहले सोचें (Heart health – Think before you eat)

रेड मीट, जंक फ़ूड जैसी चीजें दिल के लिए बिल्कुल सही नहीं होती. इससे कोलेस्ट्रोल बढ़ने की शिकायत हो सकती है जो स्ट्रोक को बढ़ावा देता है. शाकाहारी और हरी पत्तेदार सब्जियों का प्रयोग करें. इसके साथ विभिन्न तरह के विटामिन्स, प्रोटीन और मिनरल्स वाली चीजें आहार में शामिल करें.

शराब और सिगरेट को कहें, ना (Heart health – Stop smoking and limit drinking)

तम्बाकू और अल्कोहल शरीर के लिए नुकसानदायक होते हैं. अगर आपको दिल से संबंधित जरा सी भी कोई परेशानी हो तो इनका पूरी तरह त्याग कर देना उचित होगा. इसके अलावा ये दोनों ही आदतें शरीर को हानि पहुंचाती है इसीलिए इनसें दूर ही रहना अच्छा है.

Heart health

तनाव से दूर रखना सीखें (Heart health – Learn the art of being stress free)

तनाव आज हमारे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन चुका है. काम और पारिवारिक समस्या सही के पास होती है जिनसे निपटकर आपको खुश रहने का प्रयास करना चाहिए. जितना हो सके सकारात्मक रवैया रखें और तनाव को अपने ऊपर हावी ना होने दें. आराम के साथ योग और अपने शौक आदि को भी पर्याप्त समय दें.

डॉक्टर से संपर्क करते रहे (Heart health – Keep in touch with doctor)

बचाव ही सबसे बड़ा उपाय या इलाज है. दिल की सेहत (Heart health) का ध्यान रखने के लिए अपने डॉक्टर से समय समय पर जांच करवाते रहे. 30 की उम्र के बाद ये और भी ज़रूरी हो जाता है. अगर आपके परिवार में दिल से संबंधित रोग रहे हैं तो आपको समय से पहले इसके प्रति सजग हो जाना चाहिए.

7 घंटे की नींद ज़रूरी (Heart health – 7 hours of sleep should be your mantra)

एक स्टडी के अनुसार यह बताया गया है कि वयस्कों को 7 घंटे की नींद ज़रूरी है. दिल की हिफाजत के लिए नियमित 7 घंटे सोना चाहिए. सोने के दौरान धमनियों में कैल्शियम की मात्रा कम हो जाती है जिसका संबंध दिल की सेहत (Heart health) से है. इसीलिए कम नींद या ज़रूरत से ज्यादा नींद भी हानिकारक है.

Heart health

कम नमक का सेवन (Heart health – Cut down on salt consumption)

अधिक नमक दिल को नुकसान पहुंचा सकता है और खास तौर पर खाने में ऊपर से लिया जाने वाला नमक शरीर को बहुत क्षति पहुंचाता है. इसके अलावा नमकीन काजू, मूंगफली और इसी तरह के सूखे मेवे जो साल्टेड (salted) होते हैं वो ब्लड प्रेशर और दिल के लिए खतरनाक होते हैं.

ओमेगा3 फैटी एसिड (Heart health – Include more omega-3-fatty acids in your daily diet)

ओमेगा3 फैटी एसिड शरीर में गुड कोलेस्ट्रोल को बढ़ावा देता है जिस की वजह से दिल के रोग दूर रहते हैं. इसके लिए आप सालमन, टूना, सार्डीन आदि मछलियों का सेवन कर सकते हैं. अखरोट, अलसी, शिया के बीज आदि में भी ओमेगा3 फैटी एसिड भरपूर पाया जाता है.