Soya Bean Benefits सोयाबीन खाने के जबरदस्त फायदे और नुकसान

Soya Bean Benefits सोयाबीन खाने के जबरदस्त फायदे और नुकसान

सोयाबीन(Soya Bean Benefits) प्रोटीन का बहुत अच्छा स्रोत होता है। इसके अलावा इसमें विटामिन, खनिज, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स और विटामिन ए की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है। यह सभी तत्व शरीर के लिए आवश्यक अमीनो एसिड का काम करते हैं।

आप शायद नही जानते होंगे कि सोयाबीन(Soya Bean Benefits) में दूध, अंडे और मांस से कहीं अधिक प्रोटीन की मात्रा होती है। इसके अलावा इसमें कई तत्व जैसे कार्बोहाइड्रेट, वसा, कैल्शियम, आयरन और फास्फोरस जैसे मिनरल्स भी पाए जाते हैं जो हमारें रोग प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं।

Soya Bean Benefits

सोयाबीन के फायदे – Soybean Ke Fayde In Hindi

सोयाबीन के दाने के फायदे एनीमिया में(Soya Bean Benefits)

Soya Bean Benefits सोयाबीन को कई तरीकों से उपयोग में लाया जाता है जैसे इसके बीज की सब्जी बनाकर, इसके तेल का उपयोग करके, इसके छिलके से बनी बरी का उपयोग करके, इसके अतिरिक्त सोयाबीन का दूध भी स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। यह शरीर को एनीमिया (लाल रक्त कोशिकाओं की कमी) और ऑस्टियोपोरोसिस (हड्डियों का कमजोर होना) नामक बीमारियों से भी दूर रखता है। आज हम और आप सोयाबीन से होने वाले शारीरिक लाभ के बारे में जानते हैं।

सोयाबीन खाने के फायदे हृदय के लिए(Soya Bean Benefits)

Soya Bean Benefits सोयाबीन दिल से जुड़े रोगों को ठीक करने में मदद करता है। दिल की बीमारी से ग्रसित लोगों के खून में वसा की मात्रा बढ़ जाती है और फायदेमंद वसा यानी HDL की मात्रा कम हो जाती है। इसमें 20 से 22 प्रतिशत तक वसा होता है जिसमें 15 % सैचुरेटेड फैट (saturated fat) , 15% मोनो-सैचुरेटेड फैट (mono-saturated fat) और 60% पोली- असंतृप्त फैट (poly- unsaturated fat) की मात्रा होती है जो की दिल के रोगियों के लिए फायदेमंद होता है।

सोयाबीन LDL की मात्रा को कम करने में मदद करता है। इसके साथ ही इसमें उपस्थित लेसितिण (lecithin) नामक पदार्थ दिल की नलियों में कोलेस्ट्रॉल को जमने से रोकता है। इस प्रकार यह दिल के रोगों से पीड़ित व्यक्तियों के लिए फायदेमंद होता है।

सोयाबीन खाने के लाभ मासिक धर्म में(Benefits of Soya Bean)

महिलाओं के मासिक धर्म बंद होने से शरीर में एस्ट्रोजन (estrogen) की कमी हो जाती है। जिससे महिलाओं की हड्डियों का तेज़ी से नुकसान होने लगता है। इस वजह से उन्हें ऑस्टियोआर्थराइटिस (osteoarthritis) की बीमारी जकड़ लेती है और घुटनो में दर्द भी रहने लगता है। इस स्थिति में सोयाबीन बहुत ही फायदेमंद होता है। सोयाबीन में उपस्थित फायटोएस्ट्रोजेंस (Phytoestrogens) शरीर में एस्ट्रोजन (estrogen) की कमी को पूरा करने में मदद करते हैं। इसलिए 3 से 4 महीने तक सोया का उपयोग करने से महिलाओं की सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

इसके अलावा सोयाबीन(Soya Bean Benefits) महिलाओं को प्रोटीन देने के साथ-साथ मासिक धर्म के समय होने वाले कष्ट जैसे शरीर में सूजन, भारीपन, थकान, कमर का दर्द आदि में राहत दिलाने में भी मदद करता है।

सोयाबीन दूध हड्डियों के लिए(Soya Bean Benefits)

Soya Bean Benefits सोयाबीन में उपस्थति कैल्शियम और प्रोटीन की मात्रा हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करती है। सोयाबीन कैल्शियम की कमी से होने वालें ऑस्टियोआर्थराइटिस (osteoarthritis) जैसे रोगों से बचने में मदद करता है।

Soya Bean Benefits

सोयाबीन की बड़ी के फायदे मधुमेह रोग में(Soya Bean Benefits)

मधुमेह रोग से पीड़ित व्यक्तियों के लिए भी सोयाबीन(Soya Bean Benefits) बहुत ही फायदेमंद होता है। मधुमेह के रोगियों के लिए सोयाबीन से बनी रोटी का उपयोग लाभदायक होता हैं। इसके अलावा सोयाबीन के रोजाना सेवन से मधुमेह रोग से पीड़ित व्यक्तियों की मूत्र से संबंधित परेशानियां भी दूर होती हैं।

सोयाबीन के बीज के फायदे उच्च रक्तचाप में(Soya Bean Benefits)

Soya Bean Benefits सोयाबीन का प्रयोग रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी मदद करती है। इसके सेवन के लिए कम नमक के साथ भुने सोयाबीन का रोजाना 8 हफ्तों तक सेवन करें। इससे हाई बीपी को नियंत्रण करने में मदद मिलेगी।

सोयाबीन के फायदे मस्तिष्क के लिए(Soya Bean Benefits)

Soya Bean Benefits सोयाबीन में उपस्थित फास्फोरस (phosphorous) व्यक्तियों को दिमाग़ से सम्बंधित परेशानियां, मिर्गी, याददाश्त कमजोर होना, सूखा रोग, और फेफड़ो से संबंधित बीमारियों से दूर रखने में मदद करता है। इसके लिए सोयाबीन के आटे का उपयोग करें। सोयाबीन के आटे में मौजूद लेसितिण (lecithin) नामक पदार्थ इन सभी बीमारियों को दूर करने में मदद करती हैं।

अंकुरित सोयाबीन खाने के फायदे शरीर के विकास में(Soya Bean Benefits)

सोयाबीन(Soya Bean Benefits) शरीर के विकास में मदद करता है। यह त्वचा, मांसपेशियां, नाखून, बाल के विकास में मदद करता है। इसके अतिरिक्त यह फेफड़ों, हृदय, शरीर के आंतरिक भागो की रचना में भी मदद करता है।

Soya Bean Benefits

त्वचा के लिए सोयाबीन के लाभ(Soya Bean Benefits)

सोयाबीन(Soya Bean Benefits) में कई शरीर के लिए फायदेमंद तत्व जैसे की सैपोनिन्स (saponins), सीटोस्टेरॉल (sitosterol) और फेनोलिक एसिड (phenolic acid) होते हैं जो की शरीर को कई प्रकार के कैंसर जैसे हृदय कैंसर और ब्रेस्ट कैंसर आदि से बचाने में मदद करते हैं। इसके अलावा सोयाबीन के बीज को खाने से त्वचा का रंग साफ होता है। शारीरिक विकास, कब्ज और कई प्रकार की बीमारियां भी दूर होती है।

अंकुरित सोयाबीन के अन्य फायदे(Soya Bean Benefits)

अंकुरित सोयाबीन(Soya Bean Benefits) के अन्य फायदे इस प्रकार हैं –

  • पेट के कीड़े और हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करने में सोया की छाछ का सेवन करें।
  • इसमें उपस्थित फाइबर पेट के रोगों को ठीक कर भोजन को पचाने में मदद करता है।
  • गठिया रोग को दूर करने में सोया से बनी रोटियां और सोयाबीन दूध बहुत ही फायदेमंद होता है।
  • सोयाबीन में खून को बनाने और बढ़ाने वाले आयरन की अच्छी मात्रा होती है। इस वजह से यह शरीर में खून की कमी को पूरा करने में मदद करता है।
  • Soya Bean Benefits सोयाबीन का उपयोग शरीर के वजन को बढ़ाने में भी किया जाता है। इसके लिए रोजाना 15 से 20 सोया, 2 से 3 महीने तक खाएं और वजन बढ़ाएं।

सोयाबीन के नुकसान – Soybean Side Effects In Hindi

Soya Bean Benefits सोयाबीन के नुकसान इस प्रकार हैं –

  • सोयाबीन के ज्यादा मात्रा में सेवन करने से सेक्स सम्बंधित समस्या हो जाती है। सोयाबीन के ज्यादा मात्रा में सेवन करने से हार्मोन, लिबिडो पावर, स्‍पर्म और प्रजनन पॉवर का स्तर प्रभावित हो सकता है।
  • जो लोग फैमली प्लानिंग कर रहे उनको इसके अधिक सेवन से बचना चाहिए क्योकि यह स्‍पर्म की संख्या को कम देता है और इसके साथ साथ सेक्स करने की इच्छा भी कम हो जाती है।
  • गर्भावस्था और स्तनपान कराने वाली माताओं को भी सोयाबीन या सोयाबीन दूध का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए कियोंकि यह मतली, चक्कर आने का कारण