हींग के सेहतमंद फायदे और नुकसान

हींग के सेहतमंद फायदे और नुकसान

भारत में ज्यादातर रसोई में हींग (Hing – Asafoetida) का इस्तेमाल मसाले के रूप में किया जाता है. हींग, घर की किचन में मिलने वाला एक मसाला ही नहीं है बल्कि कई सारे औषधीय तत्वों वाली एक अचूक दवा है. दाल में तड़का लगाने से लेकर सब्जी में खुशबू के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है. बल्कि खाने को सुपाच्य भी बनाता है.

आमतौर पर ये गहरे लाल या फिर भूरे रंग की होती है. मसाले के तौर पर इस्तेमाल होने वाली हींग के कई और भी फायदे हैं. हींग को भारत में कई नामों से जाना जाता है. इसे तमिल भाषा में पेरुंगायम  (Perungaayam), तेलगु में इंगुवा (Inguva), मराठी में हींगा (Hinga), मलयालम में कायम (Kayam), कश्मीर में यांग (Yang) के नाम से जाना जाता है.

“हींग एक लेटेक्स (चिपचिपा पदार्थ) है जिसे फेरूला एसाफिटिडा जड़ी बूटी और इसकी कई किस्मों की जड़ों से निकाला जाता है. इसका पौधा मुख्‍य रूप से भूमध्यसागरीय पूर्वी क्षेत्र और मध्य एशिया में पाया जाता है. हींग में कई औषधीय गुण होते हैं और ये खासतौर पर पाचन में सुधार लाने में उपयोगी है.

हींग में एंटी-वायरल और एंटीबायोटिक जैसे गुण पाए जाते हैं जो अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, सूखी खांसी आदि में आराम दिलाती है. यह छाती की जकड़न को दूर करने और कफ को मिटाने में भी मदद करती है. सांस की समस्याओं से राहत पाने के लिए हींग, सोंठ और थोड़ा सी शहद को गुनगुने पानी में मिला कर सेवन करें.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि हींग से सिर्फ पेट के रोगों में ही आराम नहीं मिलता, बल्कि यह कई अन्य बीमारियों को भी चुटकियों में दूर करता हैं.

हींग के बारे में तथ्‍य

  • वानस्‍पतिक नाम: फेरुला एसाफिटिडा
  • कुल: एपिएसी
  • सामान्‍य नाम: हींग, हींगर, कायम, यांग, हेंगु, इंगुवा, हिंगु
  • संस्‍कृत नाम: हिंगु
  • उपयोगी भाग: जड़ और राइजोम का सूखा लैटैक्‍स (चिपचिपा पदार्थ)
  • भौगोलिक विवरण: मध्य और पूर्वी एशिया के भूमध्यसागरीय क्षेत्र

आईए जानिए स्वास्थ्य के लिए हींग के फायदे

  1. अपच होने से बचाए – अपच हो जाने की स्थ‍िति में हींग का सेवन करना बहुत फायदेमंद रहता है. गैस की समस्या से छुटकारा पाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है. अगर आपको बदहजमी की शिकायत है तो आप एक कप पानी में हींग की कुछ मात्रा मिलाकर उसका सेवन करें. इससे लाभ होगा.

2. सांस संबंधी समस्याओं मेंराहत – हींग का इस्तेमाल श्वसन नाल से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए किया जाता है. अगर आपको बलगम या फिर छाती में दर्द की शिकायत है तो आप इसका उपचार अपना सकते हैं.

3. पुरुषों में ताकत बढ़ाने के लिए – हींग का इस्तेमाल खासतौर पर पुरुषों के लिए बहुत कारगर है. साथ ही ये कामेच्छा को भी बढ़ाती है.

4. माहवारी के दर्द में निवारक – माहवारी के दौरान ज्यादातर महिलाओं को पेट में दर्द और मरोड़ की शिकायत हो जाती है. ऐसे में आप चाहे तो चुटकी भर हींग को पानी के साथ ले सकती हैं. ऐसा करने से लाभ होता है.

5. दर्द निवारक के तौर पर – हींग का इस्तेमाल कई तरह के दर्द दूर करने के लिए किया जाता है. पेट दर्द और सिर दर्द में इसे हल्का गर्म करके लेप करने से लाभ होता है और अगर आपके दांतों में दर्द है तो आप इसे नींबू की कुछ बूंदों के साथ मिलकार प्रभावित दांत पर लगा सकते हैं. ऐसा करने से फायदा होता है.

6.कैंसर से बचाए – हींग में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो शरीर की कोशिकाओं को मुक्त कणों से बचाते हैं और इससे कैंसर से सुरक्षा मिलती है. रोजाना हींग के पानी का सेवन करना बेहद फायेदमंद है.

हींग के अन्य फायदे (Hing ke Fayde)

  • मधुमक्खी या कोई कीड़ा काटने पर उस स्थान में हींग लगा लें, दर्द कम होगा व कीड़े का डंक भी निकल जायेगा.
  • इसी तरह कांटा लगने पर हींग से उसे निकाला जा सकता है.
  • पाइल्स में हींग फायदेमंद है, इसे पानी में घोल कर लगाने से आराम मिलता है.
  • चर्म रोग व सफ़ेद दाग को भी हींग ठीक करता है.
  • बच्चों में पेट में कीड़े की शिकायत बहुत आम होती है, ऐसे में हींग को पानी में घोल बच्चों को एनिमा दे, कीड़े गायब हो जायेगें, व पेट दर्द भी ठीक हो जायेगा.
  • उलटी जैसा लगते पर हींग को घोल कर पेट पर लगाना चाहिए, आराम मिलेगा.
  • हींग से हाई ब्लडप्रेशर को भी कंट्रोल किया जाता है.
  • रोजाना हींग के सेवन से शुगर कंट्रोल में रहती है.
  • रोजाना सुबह खली पेट गुनगुने पानी में हींग मिलाकर पीने से बहुत से स्वास्थ्य लाभ मिलते है.

हींग के नुकसान

  • हींग का अत्यधिक सेवन करने से बदहजमी और गैस बनने जैसी शिकायत हो सकती है. इसीलिए खाली पेट कभी भी हींग का सेवन न करें.
  • ज्यादा मात्रा में हींग का सेवन करने से चक्कर आना, जी मिचलाना जैसी भी समस्या हो सकती है.
  • बिना किसी खाद्य पदार्थ में डाले हींग को सीधा खाना या चखना होंठों में सूजन, होंठों का फूलना और झनझनाहट का कारण भी बन सकता है.
  • ब्लड प्रेशर के मरीजों को तो हींग (Hing) का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए. क्योंकि इसका सेवन ब्लड प्रेशर नियंत्रण पर नकारात्मक असर डालता है.
  • अगर कोई महिला गर्भवती है या फिर नवजात शिशु को दूध पिलाती हैं तो उसके लिए भी हींग का सेवन अच्छा नहीं है.
  • अगर आपको कलवा मार चुका या आपको ऐठन ये जुड़ी कोई प्रॉब्लम है तो हींग का सेवन करने से बचे. इससे आपको दौरा पड़ने का भी खतरा रहता है.
  • जिन लोगों को स्किन प्रॉब्लम या एलर्जी अकसर हो जाती है उन्हें हींग का सेवन नहीं करना चाहिए. कुछ लोगों को हींग (asafetida) के सेवन से शरीर में चकत्ते पड़ने लगते हैं, ऐसे मामलों में तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *