Beetroot Benefits चुकंदर(Chukandar) खाने से होती हैं कई बीमारियाँ दूर

Beetroot Benefits चुकंदर(Chukandar) खाने से होती हैं कई बीमारियाँ दूर

आपने अक्सर चुकंदर (Beetroot Benefits) का प्रयोग सलाद और जूस के रूप में किया होगा। क्या आप जानते हैं कि इस लाल रंग के फल से शरीर को कितने फायदे मिलते हैं। चुकंदर को सब्जी के रूप में तथा चुकंदर के जूस को नींबू, संतरे, सेब आदि के जूस के साथ मिलाकर भी पिया जा सकता है।

यह लाल रंग का होता है इसलिए कई लोग इसे खून बढ़ाने वाला फल भी मानते हैं। इसमें सोडियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, सल्फर, क्लोरीन, आयोडीन, आयरन, विटामिन बी1, बी2 और सी उचित मात्रा में पाए जाते हैं। इसमें उपस्थित फोलिक एसिड (folic acid) गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है।

Beetroot Benefits

Beetroot चुकंदर के पत्तों में भी आयरन, कैल्शियम और विटामिन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमें कई बीमारियों से बचाते हैं। चुकंदर के पत्तों का सेवन करने से हमारे शरीर में कभी भी खून की कमी नहीं होगी। यह सेहत के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी लाभदायक है। प्रतिदिन एक कप चुकंदर के पत्तों का जूस पीने से आपको कोई भी बीमारी नहीं होगी। चुकंदर की तासीर ठंडी होती है।

चुकंदर के फायदे – Chukandar Ke Fayde In Hindi

चुकंदर के फायदे एनीमिया के लिए – Beetroot Good For Anemia In Hindi

Beetroot चुकंदर का उपयोग हमारे शरीर में खून बढ़ाने के लिए बहुत उपयोगी है। चुकंदर में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिस के कारण यह लाल रक्त कोशिकाओं को सक्रिय और शरीर में इस की संख्या बढ़ाने में मदद करता है। यह एनीमिया रोग में बहुत ही उपयोगी होता है। इसके सेवन से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

चुकन्दर के लाभ दिमाग़ के लिए – Beetroot Benefits For Brain In Hindi

चुकंदर में कोलीन (choline) नामक पोषक तत्व होता है जो हमारी याद रखने की क्षमता को बढ़ाता है और याददाश्त को तेज रखने में मदद करता है। चुकंदर का उपयोग हमारे दिमाग़ में ऑक्सीजन के प्रवाह को बनाए रखता है जिससे दिमाग़ में रक्त का संचार सुचारू रूप से होता है। इससे पागलपन के दौरे को भी ख़त्म करने में भी मदद मिलती है।

चुकंदर की सब्जी के लाभ मधुमेह रोग में – Beetroot Benefits For Diabetes Patient In Hindi

मधुमेह रोग से पीड़ित व्यक्तियों के लिए चुकंदर बहुत ही लाभदायक होता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट रक्त में शक्कर के स्तर को बढ़ने से रोकते हैं। चुकंदर हमारे शरीर की इन्सुलिन सेंसिटिविटी (insulin sensitivity) को रोकता है और ऑक्सीडेटिव (oxidative) तनाव को दूर करता है। इस तरह चुकंदर मधुमेह रोगी के लिए लाभदायक होता है

Beetroot Benefits

चुकंदर के फायदे इन प्रेगनेंसी – Beetroot BenefitsIn Pregnancy In Hindi

चुकन्दर(Beetroot Benefits) में प्रचुर मात्रा में फोलिक एसिड होता है। यह पोषक तत्व गर्भवती महिलाओं और उनके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए महत्वपूर्ण होता है। चुकन्दर के सेवन से गर्भ में पल रहे बच्चे के रीढ़ की हड्डी (spinal cord) के निर्माण में मदद मिलती है। चुकन्दर का सेवन गर्भवती महिलाओं को अतिरिक्त ऊर्जा प्रदान करता है।

चुकंदर के जूस के फायदे हृदय में – Chukandar Ke Juice Ke Fayde For Heart In Hindi

चुकन्दर(Beetroot Benefits) में पाए जाने वाला नाइट्रेट (nitrate) नामक रसायन रक्त के दबाव को कम करता है और इसमें मौजूद ब्यूटेन (butane) नामक तत्व रक्त को जमने से रोकता है। इस तरह चुकन्दर दिल से संबंधित बीमारियों को दूर करने में मदद करता है। चुकंदर का जूस पीने से हाइपरटेंशन और हार्ट अटैक जैसी बीमारियां दूर होती हैं। इसके साथ-साथ चुकंदर का रस रक्त संचार में भी मदद करता है।

बीट खाने के फायदे पेट से संबंधित में – Beetroot Benefits Good For Stomach In Hindi

चुकन्दर में अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता है। चुकंदर का प्रयोग पेट से संबंधित बीमारियों जैसे कब्ज और बवासीर के लिए फायदेमंद होता है। इसके लिए आप को रोजाना रात को सोने से पहले एक गिलास चुकंदर का रस पीना चाहिए। चुकंदर शरीर में भोजन के पाचन में भी मदद करता है.

बीट के फायदे कैंसर के लिए – Beetroot Benefits For Fighting Cancer In Hindi

चुकंदर (Beetroot Benefits) में बेटासायनिन (betacyanin) नामक रासायनिक तत्व की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जिसके कारण चुकंदर का रंग हल्का भूरा और बैंगनी होता है। इसी वजह से यह हमारे शरीर को कैंसर जैसी घातक बीमारियों से लड़ने में मदद करता है।

Beetroot Benefits

चुकंदर के गुण यौन स्वास्थ्य के लिए – Chukandar Ke Labh For Sexual Health In Hindi

पुराने ज़माने से चुकंदर का उपयोग यौन स्वास्थ्य के लिए किया जाता है। चुकंदर नाइट्रिक ऑक्साइड देता है जिससे रक्त वाहिनियों का विस्तार होता है और जेनेटल्स में खून का दौरा बढ़ता है। इसके अलावा चुकन्दर में बहुत अधिक मात्रा में बोरान (boron) पाया जाता है जो ह्यूमन सेक्स हार्मोन बनाने में मदद करता है।

चुकंदर खाने से फायदा मासिक धर्म में – Beetroot Benefits For Periods In Hindi

मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को अनेकों तरह की समस्याएं होती हैं। चुकंदर में मौजूद तत्वों के कारण इस के नियमित सेवन से मासिक धर्म के दौरान होने वाला कष्ट नहीं होता। मासिक धर्म खुल कर आता है। मासिक धर्म के दौरान होने वाली सुस्ती भी दूर रहती है।

चुकंदर का रस त्वचा के लिए – Beetroot Benefits Juice For Skin In Hindi

Beetroot Benefits चुकंदर की तासीर ठंडी होती है इसलिए चुकंदर का रस त्वचा के कील मुंहासे और फोड़े फुंसी से निजाद दिलाने में मदद करता है। चुकंदर को उबाल कर उस पानी को मुहांसों तथा त्वचा पर हुए संक्रमण पर लगाने से त्वचा की समस्या से निजात मिलती है। इसके साथ-साथ यह आलस और थकान को दूर करने में भी मदद करता है। चुकंदर के रस में टमाटर का रस और हल्दी पाउडर घोल कर पीने से त्वचा में चमक बनी रहती है और त्वचा मुलायम बनती है।

चुकंदर खाने के फायदे एनर्जी को बढ़ने में – Chukandar Khane Ke Fayde For Energy In Hindi

Beetroot Benefits चुकंदर में मोजूद कार्बोहाइड्रेट शरीर की एनर्जी को बढ़ाता है और खसरा बुखार जैसी बीमारियों को ठीक करता है। इसके लिए चुकंदर को पानी में उबालकर फिर उस को छान लें अब उस पानी को पीजिए। इस से आप को इन समस्याओं में आराम मिलेगा।

Beetroot Benefits

चुकंदर के अन्य फायदे – Other Benefits Of Beetroot In Hindi

  • चुकंदर(Beetroot Benefits) में मौजूद बीटन (beaten) नामक तत्व शरीर में फोड़ा बनने से रोकता है।
  • Beetroot चुकंदर का रस पेट में पथरी बनने से रोकता है और पेशाब में होने वाली जलन को भी कम करता है।
  • चुकंदर(Beetroot Benefits) का उपयोग जिम जाने वाले लोगों के शरीर में एनर्जी को बनाए रखने में मदद करता है।
  • शोधों से पता चला है कि जिन व्यक्तियों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है, वह एक गिलास चुकंदर का रस पीलें तो एक घंटे के अंदर ही उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में कर सकते हैं।

चुकंदर के नुकसान – Chukandar Ke Nuksan In Hindi

  • जैसे चुकंदर खाने के फायदे(Beetroot Benefits) हैं वैसे ही इसे अधिक मात्रा में खाने से नुकसान भी हो सकते हैं।
  • चुकंदर में आयरन और कॉपर भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। हेमोक्रोमैटोसिस (Hemocromatosis) के रोगी को इसके सेवन से बचना चाहिए।
  • जो कम रक्तचाप की समस्या से परेशान हैं उन्हें चुकंदर का सेवन कम कर देना चाहिए।
  • चुकंदर अधिक मात्रा में खाने से मतली और डायरिया की समस्‍या ही सकती है।
  • किडनी की बीमारियों से पीड़ित लोगों को चुकंदर की अधिक मात्रा लेने से बचना चाहिए।