Lotus Root Benefits कमल ककड़ी खाने के अदभुत फायदे और नुकसान

Lotus Root Benefits कमल ककड़ी खाने के अदभुत फायदे और नुकसान

लोटस रूट (Lotus Root Benefits) मतलब कमल के फूल यानि कमल की जड़ नीलम्बोनेसी (Nelumbonaceae) परिवार का एक जलीय पौधा है। कमल का फूल हजारों सालों से एशियाई देशों में पाया जाता है। यह पवित्रता और दिव्य सौंदर्य का प्रतीक है। यह कई सांस्कृतिक प्रथाओं और धर्मों में महत्वपूर्ण तत्व है। यह सुंदर फूल झील, धारा, नदी आदि में उगता है। इसकी जड़ें पानी के अंदर और फूल और पत्ते पानी के ऊपर होते हैं। यह बारहमासी जलीय पौधा है। इसके बीज निष्क्रिय होने के बाद लम्बे समय पर अंकुरित होते हैं।

कमल की जड़ (Lotus Root Benefits) 4 फीट पानी के अंदर फैली होती है। इन्हें निकाल कर धोया, काटा और तैयार किया जाता है। यह बाजार में आसानी से मिल जाती है। इसका उपयोग एशियाई व्यंजनों में सब्ज़ी के रूप में किया जाता है और इसे हिंदी में कमलककड़ी कहा जाता है। इसे पकाने के कई तरीके हैं। पारंपरिक हर्बल दवाओं में प्राकृतिक या पाउडर के रूप में भी इसका प्रयोग किया जाता है। इसका उपयोग सलाद के रूप में भी किया जाता है। इसकी बनावट आलू की तरह होती है और इसका स्वाद थोड़ा मीठा और नारियल की तरह होता है।

कमलककड़ी (Lotus Root Benefits) में विटामिन, खनिज और फाइटोन्यूटरिएंट्स हैं जिनमें शामिल हैं पोटेशियम, फास्फोरस, तांबा, लोहा, मैंगनीज के साथ साथ थियामिन, पैंटोफेनीक एसिड, जस्ता, विटामिन बी 6, विटामिन सी। इसके साथ साथ यह फाइबर और प्रोटीन का बहुत ही महत्वपूर्ण स्रोत है।

Lotus Root Benefits

तो चलिए हम कमलककड़ी के लाभों (Lotus Root Benefits) का बारे में जानते हैं।

कमल ककड़ी के फायदे – Kamal kakdi ke fayde in hindi

कमल ककड़ी के फायदे रक्त बढ़ाने के लिए – Kamal kakdi benefits for blood circulation in hindi

Lotus Root Benefits कमल ककड़ी हमारे अंगों में ऑक्सीजन को बढ़ाने के लिए रक्त के संचालन को उत्तेजित करके कार्यक्षमता और ऊर्जा के स्तर में वृद्धि करती है। इसमें मौजूद लौह और तांबा लाल रक्त कोशिका के उत्पादन को बढ़ाने और रक्त की कमी को पूरा करने के साथ साथ जीवन शक्ति (vitality) और रक्त के प्रवाह में वृद्धि करने में मदद करता है।

कमल ककड़ी के गुण मस्तिष्क पर – Lotus root health benefits for mental clarity in hindi

पायरीडोक्सीन विटामिन बी कॉम्प्लेक्स का एक तक तत्व है जो मस्तिष्क में तंत्रिका रिसेप्टर्स के साथ संपर्क करते हैं जिसका सीधा प्रभाव मनोदशा और मानसिक स्थिति पर पड़ता है। यह चिड़चिड़ापन, सिरदर्द, और तनाव के स्तर को नियंत्रित करता है।

कमल ककड़ी के लाभ रखें ब्लड प्रेशर नियंत्रित – Lotus root good for blood pressure in hindi

Lotus Root Benefits कमल ककड़ी में पोटेशियम पाया जाता है जो हमारे शरीर में तरल पदार्थ के संतुलन को बनाए रखता है। यह रक्तप्रवाह में सोडियम के प्रभावों को कम करता है। पोटेशियम एक वाहिकाविस्फारक (vasodilator) है। यह रक्त वाहिकाओं को आराम देता है और इसके संकुचन और कठोरता को कम करता है। इससे रक्त के प्रवाह में वृद्धि होती है और परिसंचरण तंत्र (cardiovascular system) पर तनाव कम हो जाता है। पोटेशियम तंत्रिका गतिविधि का भी एक आवश्यक घटक है और मस्तिष्क में द्रव और रक्त के प्रवाह को बनाए रखता है।

कमल की डंडी पाचन करे अच्छा – Lotus root for digestion in hindi

Lotus Root Benefits कमल ककड़ी में अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो मल त्याग के लिए बहुत अच्छा होता है। यह कब्ज के लक्षणों को कम करती है और पाचन और गैस्ट्रिक रस के स्राव के माध्यम से पोषक तत्व अवशोषण को अनुकूलित करती है। यह आसान और नियमित मल त्याग के लिए चिकनी आंतों की मांसपेशियों में पेरिस्टैल्सिस गति को उत्तेजित करती है।

Lotus Root Benefits

कमल ककड़ी के गुण बढ़ाए प्रतिरक्षा प्रणाली – Kamal kakdi ke fayde for immunity in hindi

कमल की जड़ (Lotus Root Benefits) में विटामिन सी पाया जाता है। 100 ग्राम कमल की जड़ में हमारी दैनिक आवश्यकता का 73% यह शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट विटामिन C होता है। विटामिन सी कोलेजन (collagen) का एक महत्वपूर्ण घटक है जो रक्त वाहिकाओं के अंगों और त्वचा की अखंडता और शक्ति को बनाए रखता है और प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है। इसके अलावा विटामिन सी शरीर में फ्री रेडिकल्स को बेअसर कर सकता है जो कोशिकाओं के मेटाबोलिज्म के खतरनाक बयप्रोडक्ट्स होते हैं और जिनके कारण कैंसर और हृदय रोग जैसी समस्याएं होती हैं।

लोटस रूट कम करे कोलेस्ट्रॉल – Lotus root for heart health in hindi

पोटेशियम में रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करने की क्षमता होती है और डाइटरी फाइबर में कोलेस्ट्रॉल कम करने की क्षमता होती है। कमल की जड़ (Lotus Root Benefits) में मौजूद पाइरोडॉक्सिन (pyridoxine) रक्त में होमोसिस्टीन (homocysteine) के स्तर को नियंत्रित करता है जो सीधे दिल के दौरे को जन्म दे सकता है।

कमल की जड़ का उपयोग करे वजन कम – Lotus root for weight loss in hindi

Lotus Root Benefits कमल ककड़ी वजन कम करने में भी मदद करती है। इसमें पोषक तत्व और फाइबर उच्च मात्रा में पाया जाता है और कैलोरी बहुत कम होती है। इसके सेवन से आवश्यक पोषक तत्वों की प्राप्ति होती है और हमारा पेट बहुत समय तक भरा हुआ महसूस करता है जिसके कारण हम अधिक खाने से बचते हैं और हमारा वजन कम होता है।

कमल की जड़ के लाभ आँखों के स्वास्थ्य में – Kamal kakdi good for eyes in hindi

Lotus Root Benefits कमल की जड़ों में विटामिन ए पाया जाता है जो त्वचा, बाल, और आँखों के स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए महत्वपूर्ण है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, यह मैक्यूलर डीजैनरेशन और अन्य स्थितियों को रोकने में मदद करती है। यह घावों को तेजी से अच्छा करती है, त्वचा को साफ़ करने और सूजन को कम करने में मदद करती है।

Lotus Root Benefits

कमल की जड़ के गुण त्वचा रखे स्वस्थ – Benefits of lotus root for skin in hindi

एंटीऑक्सिडेंटों में समृद्ध कमल की जड़(Lotus Root Benefits) त्वचा के कंडीशनर के रूप में काम करती है। इसके उपयोग से त्वचा हाइड्रेटेड और मॉइस्चराइज रहती है और त्वचा मुलायम और चमकदार बनती है। यह त्वचा की फाइन लाइन्स को हटाने, ब्राउन स्पॉट्स और झुर्रियों को हटाने में मदद करती है।

कमल की जड़ (Lotus Root Benefits) का बाहरी उपयोग तेलिए त्वचा को संतुलित कर सकता है और मुँहासे और दोनों के ब्रेकआउट को रोकता है। कमल के पत्ते का पेस्ट त्वचा की सूजन और बुखार को कम करने में मदद करता है।

लोटस जड़ के फायदे श्वसन तंत्र के लिए – Lotus root help the lungs in hindi

शोध से पता चलता है कि कमल की जड़ (Lotus Root Benefits) श्वसन प्रणाली के लिए लाभदायक है। यह श्वसन तंत्र को साफ करने और शक्ति प्रदान करने में मदद करती है। खांसी से राहत पाने के लिए इसकी चाय का सेवन किया जाता है क्योंकि यह बलगम को पिघला देती है। टीबी रोग और अस्थमा के इलाज के लिए इसके रस का सेवन बहुत लाभदायक होता है।

कमल रूट का उपयोग मधुमेह के इलाज में – Lotus root for diabetes in hindi

इसमें उच्च मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो शरीर में कार्बोहाइड्रेट के पाचन को कम करता है। इस प्रकार शरीर में चीनी अवशोषण की प्रक्रिया को धीमा होती है। इसलिए कमल रूट(Lotus Root Benefits)को अच्छा मधुमेह भोजन माना जाता है। शोध में पाया गया है कि कमल रूट का उपयोग डायबिटीज के इलाज में किया जा सकता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मधुमेह से लड़ने में मदद करते हैं।

लोटस रूट फॉर प्रेगनेंसी – Lotus root good for pregnancy in hindi

लोटस रूट (Lotus Root Benefits) गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत अच्छा होता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास लिए बहुत लाभदायक होते हैं।

कमल ककड़ी के नुकसान – Kamal kakdi ke nuksan in hindi

इसके कोई हानिकारक प्रभाव नहीं हैं। लेकिन इसको कच्चा खाने से परजीवी या बैक्टीरिया संक्रमण फैल सकता है। इसलिए इसे हमेशा पका कर खाना चाहिए, नहीं तो बुखार, पेट में दर्द और दस्त जैसी समस्याएँ हो सकती हैं।

यदि इससे किसी को एलर्जी है तो इसका सेवन नहीं करें।