हमेशा फिट रहने के लिए डाइट में एल्काइन फूड्स जरूर शामिल करें और शरीर को ऊर्जावान रखें

हमेशा फिट रहने के लिए डाइट में एल्काइन फूड्स जरूर शामिल करें और शरीर को ऊर्जावान रखें

यह सूची मैनें बहुत मेहनत से तैयार की है. जिसका मकसद मनुष्य जीवन में अम्लीय भोजन से निजात मिले व क्षारीय खाद्य पदार्थ जीव के पीएच के लिए फायदेमंद रहें, उसे निरोग रखें. मैनें प्रत्येक 20 ग्राम के अवलोकन के लिए इसके अनुमानित क्षारीयता योगदान का अंदाजा दिया हुआ है जो + के साथ क्षारीयता इंगित करता है.

आइये जानते है क्या होता है pH लेवल

एक अच्छी सेहत के लिए शरीर में Ph लेवल का स्थिर होना बेहद आवश्यक है. अगर पीएच स्‍तर असामान्‍य हो जाए तो आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. शरीर में Ph लेवल को सामान्य रखने के लिए एल्कलाइन डायट यानि क्षारीय आहार लेना बहुत जरूरी है. 

जब हम अल्कलाइन डाइट की बात करते हैं तो pH लेवल को समझना काफी महत्वपूर्ण हो जाता है. दरअसल, pH वो इकाई (मात्रक) है जो यह बताती है कि कोई चीज कितनी अल्कलाइन (क्षारीय) या एसिडिक (अम्लीय) है.

pH की रेंज 0–14 के बीच होती है

एसिडिक: 0.0–6.9

न्यूट्रल : 7.0

अल्कलाइन या बेसिक: 7.1–14.0

पीएच को अगर सीधे तौर समझा जाए तो यह हमारी बॉडी के फ़्लूइड्स और टिशूज़ का एसिड-ऐल्कलाइन अनुपात है. लेकिन जब ये अनुपात गड़बड़ हो जाता है तो बॉडी काफी एसिडिक हो जाती है या फिर ऐल्कलाइन.

जब ऐसा होता है तो बॉडी में कई तरह की कमजोरियां और बीमारियां जैसे कि उम्र का तेज़ी से बढ़ना, डीमिनरलाइजेशन, थकान, एन्ज़ाइम की बिगड़ी हुई गतिविधि, सूजन और शरीर के अंगों की क्षति अपने आप ही होने लगती है.

क्षारीय खाद्य पदार्थ

एक क्षारीय भोजन में एसिड को बेअसर करने और हमारे पीएच को बढ़ाने की क्षमता होती है. द सेवन पिलर्स ऑफ़ हेल्थ के लेखक डॉ. कोलबर्ट के अनुसार, “शरीर एक क्षारीय वातावरण में विकसित होता है, क्योंकि यह एक एसिड एक की तुलना में उस वातावरण में detoxify करने में सक्षम है”.

यही कारण है कि, पीएच के पर्याप्त स्तर को बनाए रखने के लिए आदर्श एक आहार है जो 60% क्षारीय खाद्य पदार्थों और 40% अम्लीय खाद्य पदार्थों को जोड़ता है.

आइए आपको बताते हैं कि क्या होता है अम्लीय आहार, क्षारीय आहार…

अम्लीय आहार – मनुष्य द्वारा निर्मित आहार प्रायः अम्लीय होता है जिससे एसीडिटी होती है. जैसे तले-भूने पदार्थ, दाल, चावल, कचैरी, सेव, नमकीन, चाय, काॅफी, शराब, तंबाकु, डेयरी उत्पाद, प्रसंस्कृत भोजन, मांस, चीनी, मिठाईयां, नमक, चासनी युक्त फल, गर्म दूध आदि के सेवन से अम्लता बढ़ती है.

क्षारीय आहार – प्रकृति द्वारा प्रदत आहार (अपक्वाहार) प्रायः क्षारीय प्रभाव उत्पन्न करते हैं. जैसे ताजे फल, सब्जियां, अंकुरित अनाज, पानी में भीगे किशमिश, अंजीर, धारोष्ण दूध, फलियां, छाछ, नारियल, खजूर तरकारी, सुखे मेवे, आदि पाचन पर क्षारीय हैं. ज्वारे का रस क्षारीय होता है. यह हमारे शरीर को एल्कलाइन बनाता है.

शरीर के द्रव्यों को क्षारीय बनाता है. खाने का सोड़ा क्षारीय बनाता है. अध्ययनों से मिला है कि क्षारीय भोजन मनुष्य या जीव की रोगों से लड़ने की क्षमता यानी इम्यून सिस्टम को अत्यधिक स्ट्रांग करता है.

आज कोरोना महामारी के संदर्भ को देखते हुए, जिसमे शोध ज्ञान में पाया गया है कि #covid19 नामक ये विषाणु या वायरस 6.5 pH पर अपनी सेल वाल को क्षीण करना शुरू कर देता है, कोरोनावीराफैट प्रोटीन RNA आधारित विषाणु है.

जो मात्र आंख नाक व मुंह के रास्ते घुस कर सीधा स्वसन प्रणाली पर मकड़ी की तरह जाला बुनकर उसे ऑक्सीजन लेने से बाधित करता है, इसी को ध्यान में रखते हुए मैनें ये लेख जो क़ई शोध लेखों पर आधारित है को संकलित करके मानव जीवन के लिए जरूरी उपायों के मध्य नज़र लिखा है.

कृपया ध्यान से पढ़े

क्षारीय आंकड़े जितने अधिक होंगे, क्षारीयता का योगदान उतना ही अधिक होगा जो भोजन को हमारे शरीर में पहुंचाएगा, और इसलिए हमारे पीएच.

सब्जियों

अल्फाल्फा घास +29.3

शतावरी +1.3

जौ घास ४:१

ब्रसेल्सस्प्राउट्स +0.5

गोभी सलाद, ताजा +14,1

फूलगोभी +3.1

केयेन काली मिर्च +18.8

अजवाइन +13.3

चिव +8.3

कॉम्फ्रे +1.5

ताजा ककड़ी, +31.5

डंडेलियन 13:.7

घास का कुत्ता 13:.6

एंडिव, ताजा +14.5

फ्रेंच हरी फलियाँ +11.2 कट

लहसुन +13.2

दिसंबर ग्रीन हार्वेस्टगोभी +4.0

हरी गोभी, मार्च फसल +2.0

कामत घास ४:६

कैनन +4.8

लीक्स (बल्ब) +7.2

लेटिष +2.2

प्याज +3,0

मटर, ताजा +5,1

मटर, परिपक्व +0.5

लाल गोभी +6.3

रुबरब के तने +6.3

सेवॉयगोभी +4.5

घास काटना

सोरेल +11.5

सोयाबीन अंकुरित +29,5

पालक (मार्च को छोड़कर) +13,1

पालक, मार्च की फसल +8.0

चिया अंकुरित बीज 5:.5

अंकुरित मूली के बीज 5:.4

लॉनपुआल 13:.4 बजे

जलकुंड +7.7

गेहूं की घास +33.8

गोभी सफेद +3.3

तोरी +5.7

रूट सब्जियां

बीट +11.3

गाजर +9.5

मूली +6.8

कॉलिनाबो +5.1

आलू +2.0

लाल मूली +16.7

काली ग्रीष्मकालीन मूली +39.4

शलजम +8.0

सफेद मूली (वसंत) +3.1

फल

एवोकैडो (प्रोटीन) +15.6

ताजा नींबू +9.9

फ़ाइलें +8.2

टमाटर +13,6

गैर-संग्रहीत जैविक अनाज और फलियां

एक प्रकार का अनाज Groats +0.5

दानेदार सोयाबीन (कम सोयाबीन) +12,8

दाल +0.6

बीन्स +12.0

सोया आटा +2.5

सोया लेसिथिन (शुद्ध) +38.0

सोया नट (सोयाबीन भिगोया गया, फिर सूख गया) ५:५

सोयाबीन, +12.0

प्रायोजित +0.5

टोफू +3.2

सफेद सेम (सफेद बीन्स) +12,1

सूखे मेवे

बादाम +3.6

ब्राजील नट +0.5

बीज

बीज रहित बीज +2.3

जीरा +1

सौंफ़ बीज +1

सन के बीज +1

कद्दू के बीज +5.6

तिल के बीज +0.5

सूरजमुखी के बीज +5,4

कर्नेल गेहूं +11.4

वसा (ताजा, ठंडा दबाया हुआ तेल)

बोरेज तेल +3.2

ईवनिंगप्रिमरोज़ ऑयल +4.1

सन बीज का तेल +3,5

समुद्री लिपिड +4.7

जैतून का तेल +1.0

आइए आपको बताते हैं कि आपको अपनी डाइट में किन क्षारीय आहार को शामिल करना चाहिए. 

खट्टे फल(Citrus Fruits)

नींबू, चूना और संतरे विटामिन सी से भरे हुए हैं और एसिडिटी और हार्टबर्न से राहत प्रदान करने के साथ आपके शरीर को डिटॉक्स करने में मदद करने के लिए जाने जाते हैं. आपको अपनी डाइट में खट्टे फलों को जरूर शामिल करना चाहिए.

कंद-मूल – एल्कलाइनडाइट में मूली (सफेद, लाल और काली), चुकंदर, गाजर, शलजम आदि का सेवन करें. शरीर को पर्याप्‍त ऊर्जा भी मिलती है.

समुद्री आहार (Seaweed Foods) – क्या आप जानते हैं कि समुद्री सब्जियों में जमीन पर उगाए जाने वाले पदार्थों की तुलना में 10 से 12 गुना ज्यादा खनिज पाया जाता है. इसके साथ ही उन्हें अत्यधिक क्षारीय खाद्य स्रोत भी माना जाता है और शरीर के लिए अलग-अलग फायदों के लिए भी जाना जाता है. आप नोरी या केल्प में अपने सूप या हलचल-फ्राइज़ के कटोरे में टिप कर सकते हैं या घर पर सुशी बना सकते हैं.

जड़ वाली सब्जियां (Root Vegetables) 

जड़ वाली सब्जियां आपके स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है, शकरकंद, जड़ो, कमल की जड़, बीट और गाजर जैसी जड़ वाली सब्जियाँ क्षारीय आहार के काफी अच्छे स्रोत हैं. मसाले और अन्य मसाला के थोड़ा छिड़काव के साथ भुने जाने पर वे और भी अच्छे लगने लगते हैं.

ब्रोकली – ब्रोकली, गोभी, बंद गोभी, ब्रसेल्सस्प्राउट्स और इस प्रकार की अन्‍य सब्जियां का सेवन भी शरीर में Ph लेवल को बैलेंस रखता है.

शिमला मिर्च – शिमला मिर्च सबसे अधिक क्षारीय आहार में शामिल है. इसमें मौजूद एंजाइम्‍स और एंटीबैक्‍टीरियल गुण शरीर की हानिकारक फ्रीरेडिकल्‍स से लड़ने में मदद करते हैं.

 नट्स (Nuts)नट्स का नियमित रूप से सेवन करना आपकी सेहत के लिए अच्छा होता है, ये अच्छे वसा का स्त्रोत के अलावा शरीर में एक क्षारीय प्रभाव भी पैदा करते हैं. हालांकि, वे कैलोरी में उच्च हैं, इसलिए नट्स का सेवन सीमित मात्रा में होना चाहिए.

आपको अपने रोजाना के भोजन की योजना में काजू, बादाम और बादाम शामिल करने चाहिए हरी पत्तेदार सब्जियां (Green Leafy Vegetables)

ज्यादातर हरी पत्तेदार सब्जियों को हमारे सिस्टम में एक क्षारीय (Alkaline Foods) प्रभाव कहा जाता है. यह बिना कारण नहीं है कि हमारे बुजुर्ग और स्वास्थ्य विशेषज्ञ हमेशा हमें अपने दैनिक आहार में साग को शामिल करने की सलाह देते हैं.

इनमें कुछ जरूरी खनिज होते हैं जो शरीर के लिए अलग-अलग कामों के लिए जरूरी होते हैं. इसके लिए आपको अपने भोजन में पालक, केल, अजवाइन, अजमोद, अर्गुला और सरसों का साग शामिल करने चाहिए.

इसके अलावा, पीएच को विनियमित करने का तरीका जानने के लिए एक और तरीका है. भोजन में खनिजों के माध्यम से निम्न तालिका पीएच की मात्रा दर्शाती है कि प्रत्येक खनिज जीव में योगदान देता है:

कैल्शियम: पीएच 12

सीज़ियम: पीएच 14

मैग्नीशियम: पीएच 9

पोटेशियम: पीएच 14

सोडियम: पीएच 14

यदि पीएच 7.35 और 7.45 के बीच नहीं है, तो मैं उसे वैज्ञानिक रूप से “लक्षण-रोग सीमा” करार दूंगा.

नवीनतम सुझाव और डेटा

आम तौर पर, पश्चिमी दुनिया में, नाश्ता सबसे अम्लीय भोजन के बारे में है जो मनुष्य शरीर के लिए अत्यंत घातक है.

बादाम के दूध को न भूलें. निस्संदेह यह सबसे अच्छा क्षारीय खाद्य पदार्थों में से एक है जो हम पा सकते हैं. प्रोटीन, फाइबर से भरपूर और पोषक तत्वों से भरपूर, ये आपको जरूरत की हर चीज मुहैया कराएंगे.

कम क्षमता जो विभिन्न ट्यूमर कोशिकाओं के खिलाफ हमारे शरीर की रक्षा करती है (क्योंकि कैंसर को प्रकट होने के लिए एक अम्लीय गुंजाइश की आवश्यकता होती है यदि कैंसर ग्रस्त व्यक्ति को लगातार क्षारीय भोजन व जल दिया जाए तो उसकी कैंसर कोशिकाएं धीरे धीरे मरने लगती हैं क्योंकि कैंसर कोशिकाएं सिर्फ अम्लीय मीडियम में ही तेज़ी से ग्रो करती हैं.

आखिरी सुझाव स्वस्थ व जवान रहने के लिए अम्लता से बचें यदि आप मेरे द्वारा बताए गए विकल्पों का विकल्प नहीं चुनते हैं, तो इसे यथा संभव उचित बनाने का प्रयास करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *